Thursday , February 22 2024

Tamarind Dishes: गुणों से भरपूर है खट्टी-मीठी इमली, इन 5 तरीकों से अपनी डाइट में शामिल करें

नई दिल्ली: इमली के व्यंजन: इमली का नाम सुनते ही हमारे बचपन की यादें ताजा हो जाती हैं। हम सभी ने बचपन में खट्टी-मीठी इमली का स्वाद जरूर चखा होगा. इमली की कैंडी हो या इमली की चटनी, इसका स्वाद आज भी हमें बचपन में ले जाता है। इसके स्वाद के कारण इसका उपयोग भारतीय व्यंजनों में कई व्यंजन बनाने में किया जाता है। इतना ही नहीं यह सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

वजन घटाने के अलावा यह पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में भी काफी मददगार है। अगर आप भी इसके स्वाद और गुणों के कारण इसे अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहते हैं तो इन पांच तरीकों से इमली को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

इमली का शरबत

अगर आप इमली को अपने आहार में शामिल करना चाहते हैं तो इमली का शरबत एक अच्छा विकल्प है। यह मीठा, खट्टा और मसालेदार शरबत स्वाद तो बढ़ाता ही है साथ ही आपकी सेहत को भी कई फायदे पहुंचाता है.

अम्बाल (इमली आधारित सब्जी)

आप इमली को सब्जी के तौर पर अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं. इस इमली की सब्जी को अंबल भी कहा जाता है. इसे कद्दू, इमली, गुड़ और कई मसालों को मिलाकर बनाया जाता है. इसे आप दाल-चावल, राजमा-चावल या रोटी-पराउठा और पूड़ी के साथ खा सकते हैं.

इंजी पुली (इमली की चटनी)

इमली को अपने आहार में शामिल करने का सबसे अच्छा तरीका इसकी चटनी है। खट्टी-मीठी और तीखी इमली की चटनी आपके खाने का स्वाद दोगुना कर देती है. देश के अलग-अलग हिस्सों में लोग इसे कई तरह से बनाते और खाते हैं. इमली के फायदे पाने के लिए आप इमली की चटनी को चावल या रोटी के साथ खा सकते हैं.

इमली चावल

अगर आप कम मेहनत और समय में स्वादिष्ट और सेहतमंद खाना बनाना चाहते हैं तो इमली चावल एक बेहतरीन विकल्प है। इसे बनाना जितना आसान है स्वाद में उतना ही लाजवाब है. इसके अलावा यह आपकी सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

सांबर (इमली आधारित दाल)

आप इमली को सांबर के रूप में भी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं.

अरहर दाल, इमली का गूदा, सांबर मसाला, करी पत्ता और ढेर सारी सब्जियों से बना यह व्यंजन आपके भोजन में स्वाद जोड़ता है और आपके स्वास्थ्य में सुधार करता है। यह भी एक लोकप्रिय दक्षिण भारतीय व्यंजन है।