Friday , July 19 2024

सरकार ने सोने के कुछ गहनों के आयात पर लगाई रोक, जानें पूरी जानकारी

सरकार ने जड़े हुए सोने के आयात पर प्रतिबंध लगाया: केंद्र सरकार ने भारत-यूएई व्यापक आर्थिक साझेदारी समझौते (सीईपीए) के तहत कुछ प्रकार के सोने के आभूषणों के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है। विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की है।

डीजीएफटी ने कहा, भारत-यूएई मुक्त व्यापार समझौते टीआरक्यू (टैरिफ रेट कोटा) के तहत कोई आयात प्रतिबंध लागू नहीं होगा। हीरे और मोती, कुछ प्रकार के हीरों और अन्य कीमती और अर्ध-कीमती पत्थरों से जड़े सोने के गहनों के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

उद्योग विशेषज्ञों ने कहा, इस प्रकार के आभूषणों के आयात पर प्रतिबंध लगाया गया है। सरकार ने कहा कि इस फैसले का सीधा असर इंडोनेशिया और तंजानिया से आयातित हीरे-मोती सोने के आभूषणों पर पड़ेगा। प्रतिबंधित श्रेणी के तहत वस्तुओं के आयात के लिए सरकार से ग्रहणाधिकार या अनुमति की आवश्यकता होती है।

प्रतिबंध लगाने के पीछे का कारण

केंद्र सरकार सोने के आयात पर 15 फीसदी शुल्क लगाती है, हालांकि, हाल ही में भारत-एशियाई मुक्त व्यापार समझौते के तहत इंडोनेशिया और तंजानिया जैसे देशों से हीरे-मोती सोने के आभूषणों का आयात बढ़ा है। मालूम हो कि व्यापारी इन देशों से ड्यूटी फ्री आयात कर देश में सोना पिघलाकर अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं।

भारत ने इंडोनेशिया के साथ मुक्त व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं। इसलिए इंडोनेशिया से इन आभूषणों का आयात कई गुना बढ़ गया। वहीं, तंजानिया से इन वस्तुओं का आयात बढ़ने के बाद से केंद्र सरकार ने यह कदम उठाया है.