Wednesday , May 29 2024

शरीर के लिए सोना जरूरी है, लेकिन अगर आप बहुत ज्यादा सोते हैं तो सावधान हो जाइए! हो सकता है इस विटामिन की कमी

विटामिन डी: दिन भर की थकान के बाद अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी है। अच्छी नींद के बिना हमारा शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य खराब हो सकता है। कई बार लोगों को इस बात का एहसास नहीं होता है कि अत्यधिक नींद आने का कारण कई विटामिन की कमी हो सकती है। विशेष रूप से विटामिन डी की कमी भी अत्यधिक नींद का कारण बन सकती है। आज की जीवनशैली में बहुत से लोग नींद की कमी से जूझ रहे हैं। नींद न आने की बीमारी को अनिद्रा के नाम से जाना जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि न सिर्फ हमारी खराब जीवनशैली और तनाव ही ज्यादा नींद का कारण बन सकते हैं बल्कि विटामिन की कमी भी इसकी वजह बन सकती है।  

किस विटामिन की कमी से अत्यधिक नींद आती है?

विटामिन डी न केवल हमारी हड्डियों और दांतों के लिए आवश्यक है बल्कि संभावित रूप से नींद को नियंत्रित करने में भी मदद कर सकता है। विटामिन डी की कमी से अत्यधिक नींद आ सकती है। यह हमारे शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन के स्तर को प्रभावित कर सकता है। यह हार्मोन नींद को नियंत्रित करने में प्रमुख भूमिका निभाता है।

विटामिन डी की कमी आमतौर पर सूर्य के अपर्याप्त संपर्क, आहार में इसकी कमी के कारण हो सकती है। विटामिन डी का प्राथमिक स्रोत सूर्य की किरणें हैं। आप विटामिन डी से भरपूर आहार में डेयरी उत्पादों को शामिल कर सकते हैं।

अधिक सोने से थकान और मानसिक तनाव हो सकता है। अगर ऐसा कोई लक्षण दिखे तो डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है। समस्या को समझने और सही उपाय सुझाने के लिए डॉक्टर आपके विटामिन डी स्तर का परीक्षण करेंगे।

विटामिन डी की कमी अत्यधिक नींद आने का एक प्रमुख कारण हो सकती है। समय-समय पर धूप में समय बिताने और विटामिन डी से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करने से इस समस्या को हल करने में मदद मिल सकती है, लेकिन अगर लक्षण बने रहते हैं, तो चिकित्सकीय सलाह लेना जरूरी है।