Wednesday , February 21 2024

फ्रांस क्रिकेट पर लगे धोखाधड़ी, भ्रष्टाचार के आरोप, आईसीसी करेगा मामले की जांच

नई दिल्ली, 10 नवंबर (हि.स.)। फ्रांस क्रिकेट वर्तमान में धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों का सामना कर रहा है, जिससे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा जांच की जा सकती है। दरअसल फ्रांस क्रिकेट पर कई फर्जी मैचों के आरोप लगाए गए हैं।

फ्रांसीसी मीडिया की एक रिपोर्ट के जवाब में आईसीसी ने कहा, “हम इस पर गौर कर रहे हैं।”

पूर्व फ्रांसीसी अंतरराष्ट्रीय महिला क्रिकेटर ट्रेसी रोड्रिग्ज द्वारा पहली बार काल्पनिक मेल होने का खुलासा करने के बाद फ्रांस24 की एक रिपोर्ट में ये आरोप लगाए गए थे। ऐसे भी आरोप हैं कि फ्रांस क्रिकेट महिला क्रिकेट के लिए आईसीसी विकास निधि तक पहुंचने की अपनी प्रतिबद्धता को बढ़ा-चढ़ाकर पेश करता है और छुपाता है कि वह उन्हें कैसे खर्च करता है।

आईसीसी ने कहा कि वह आरोपों को गंभीरता से ले रहा है और उम्मीद है कि वह इस समस्या की जांच शुरू करेगा। भ्रष्टाचार निरोधक इकाई इसमें शामिल होगी या नहीं, इसकी अभी तक कोई रिपोर्ट नहीं है।

रोड्रिग्ज ने फ्रांसीसी प्रकाशन को बताया कि उसने अपने संदेह पर कार्रवाई करने का फैसला किया कि फ्रांस क्रिकेट के दावे के अनुसार कई महिलाओं के मैच खेले जा रहे थे। वह उस मैदान में गई जहां खेल होने वाले थे लेकिन उसे कोई गतिविधि नहीं मिली।

रोड्रिग्ज ने फ्रांस 24 को बताया, “दो या तीन बार मैं वहां गई, लोग पिकनिक मना रहे थे और खेल के समय बच्चे साइकिल चला रहे थे। फिर अगले दिन मैंने खेल के नतीजे ऑनलाइन देखी।”

फ्रांस 24 ने भी वही काम किया, जब और जहां मैच खेले जाने थे, वहां जाकर देखा तो कोई मैच नहीं हो रहा था। फ़्रांस24 महिलाओं के दूसरे डिवीज़न का मैच देखने पेरिस के एक मैदान में गया था, लेकिन वहां मैच नहीं हुआ और तीन दिन बाद फ़्रांस क्रिकेट ने मैच पर मुहर लगा दी और परिणाम अपनी वेबसाइट पर पोस्ट कर दिया।”

चौथे डिविजन की पुरुष टीम के कोच जेम्स वर्स्टेड ने फ्रांस24 को बताया, “ज्यादातर क्लब धोखा देते हैं, वे महिलाओं की टीम होने का दिखावा करते हैं। वे लाइसेंस के लिए भुगतान करते हैं और फिर ऑनलाइन फर्जी स्कोर शीट बनाते हैं।”