Sunday , June 23 2024

नीट की परीक्षा में आस्था किरण ने लहराया सफलता का परचम

अररिया,05 जून (हि.स.)। फारबिसगंज की बेटी आस्था किरण ने अपने तृतीय प्रयास में नीट परीक्षा में सफलता प्राप्त की। फारबिसगंज प्रखंड निवासी शिक्षक ओमप्रकाश लाल दास की पुत्री आस्था किरण ने 677 अंक लाकर सामान्य श्रेणी में 4565 वां रैंक प्राप्त किया।

आस्था फारबिसगंज शहर के रानी सरस्वती विद्या मंदिर से वर्ष 2018 में मैट्रिक की परीक्षा में 95 प्रतिशत अंक लाकर जिला में प्रथम स्थान प्राप्त की थी। वर्ष 2020 में फारबिसगंज कॉलेज से 85 प्रतिशत अंक से 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की थी। नीट यूजी परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली छात्रा आस्था किरण अपनी माता के साथ फारबिसगंज शहर के टीचर कॉलोनी में रहती है।

आस्था की मां उषा दास गृहिणी है। आस्था तीन बहनों तथा एक भाई में सबसे छोटी है। आस्था की सबसे बड़ी बहन अर्पिता रंजन गृहिणी हैं तो भाई सत्य प्रकाश वर्मा सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं तो बहन शैलीश्री गृहिणी हैं।जबकि पिता स्वर्गीय ओमप्रकाश लाल दास का वर्ष 2021 में कोविड से पीड़ित होने के दौरान मृत्यु हो गया था।

आस्था किरण ने हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में कहा कि उसे विश्वास था कि मेडिकल के लिए नीट की परीक्षा में वह सफल होगी। आस्था का कहना है कि बेहतर डॉक्टर बनकर समाज में असहाय व गरीबों का सेवा करना उनकी प्राथमिकता है। आस्था ने अपनी सफलता के पीछे क्रमबद्ध तरीके से संबंधित विषयों का अध्ययन व विशेषज्ञ शिक्षकों के मार्गदर्शन तथा माता-पिता के सुझाव एवं उम्मीदें को मुख्य भूमिका बताई।

अपनी बेटी की तृतीय प्रयास में सफलता के कारण मां उषा दास अपनी खुशी को रोक नहीं सकी।उनका कहना है कि बेटी के बेहतर प्राप्तांक ने हमारी तथा पिता के उम्मीदों को पूरा किया है।