Wednesday , February 21 2024

धनिया पत्ती का नियमित सेवन करें और पाएं ये 5 फायदे…!

सब्जी में हरा धनिया डालना एक ऐसी परंपरा है, जिसके बिना सब्जी अधूरी मानी जाती है। धनिया न केवल व्यंजनों का स्वाद बढ़ाता है बल्कि उन्हें खास भी बनाता है। कुछ लोग इसे सीधे खाना पसंद करते हैं, लेकिन कई लोग सलाद में सीताफल मिलाते हैं। यह न सिर्फ देखने में खूबसूरत लगता है बल्कि मानव शरीर के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

कम ही लोग जानते हैं कि हरे धनिये में विटामिन ए, बी, सी, के, कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व होते हैं। ये पोषक तत्व न सिर्फ हमारे शरीर को मजबूत रखते हैं बल्कि हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत करते हैं। 

1. लीवर की बीमारी में फायदेमंद

लिवर की समस्याओं के लिए धनिया बहुत फायदेमंद माना जाता है। धनिया की पत्तियां एल्कलॉइड और फ्लेवोनोइड से भरपूर होती हैं। ये तत्व पित्त संबंधी विकार और पीलिया जैसी लिवर की बीमारियों को ठीक करने में मदद करते हैं।

 

2. बेहतर पाचन 

धनिये की पत्तियों के सेवन से लोगों को पाचन तंत्र संबंधी विकारों और आंतों के रोगों से राहत मिलती है। यह आपके पेट को दुरुस्त रखता है और भूख भी बढ़ाता है।

3. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है

धनिया में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। वे मुक्त कणों से होने वाली सेलुलर क्षति को रोकते हैं। धनिये की पत्तियों के नियमित सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है।

4. हृदय रोग से बचाता है

सीताफल का सेवन शरीर से अवांछित अतिरिक्त सोडियम को मूत्र के माध्यम से बाहर निकालने में मदद करता है। इससे शरीर अंदर से फिट रहता है। इसके सेवन से खराब कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

5. रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है

भोजन में धनिये की पत्तियों का सेवन करने से ऐसे एंजाइम सक्रिय हो जाते हैं, जो शरीर में ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इससे शरीर में डायबिटीज नियंत्रित रहती है और इंसान फिट रहता है।