Wednesday , February 21 2024

तुलसी विवाह के दिन करें ये खास उपाय, वैवाहिक जीवन रहेगा खुशहाल

पंचांग के अनुसार देवउठी अगियारस कार्तक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को आती है। इस दिन तुलसी विवाह उत्सव मनाया जाता है। इस साल तुलसी विवाह शुक्रवार और 24 नवंबर को मनाया जाएगा। ऐसा माना जाता है कि इस दिन भगवान विष्णु 4 महीने के बाद अपनी योग निद्रा से जागते हैं। इस दिन भगवान विष्णु को शालिग्राम स्वरूप के साथ तुलसी विवाह का भोग लगाया जाता है और फिर विवाह का शुभ समय शुरू हो जाता है।

यह दिन शादीशुदा महिलाओं के लिए खास होता है

तुलसी विवाह का दिन विवाहित महिलाओं के लिए खास होता है। इस दिन यह वांछनीय है कि विवाहित महिलाएं तुलसी विवाह पूजा करें। इसके साथ ही ज्योतिष शास्त्र में ऐसे उपाय भी हैं जिनसे वैवाहिक जीवन में आ रही परेशानियां दूर हो सकती हैं और पति-पत्नी के बीच प्यार भी बढ़ सकता है।

तुलसी में सुहाग का सामान चढ़ाएं

इस दिन तुलसीजी का शालिग्राम से विवाह हुआ था। ऐसे में निरंतर सौभाग्य के लिए पति का प्यार पाने के लिए इस दिन तुलसी जी को चूड़ियाँ, चूड़ियाँ, सिन्दूर, अलट्टो, मेहंदी जैसी सुहाग सामग्री अर्पित करें। पूजा के बाद यह वस्तु किसी विवाहित महिला को दे दें। इस उपाय को करने से दांपत्य जीवन में खुशहाली आती है।

तुलसी के जल से छिड़काव करें

इस दिन जल में तुलसी के पत्ते डालें, इस जल को पूरे घर में छिड़कें। ऐसा करने से घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर हो जाती है। साथ ही इस दिन पति-पत्नी को एक साथ पूजा करनी चाहिए। इससे दांपत्य जीवन में प्रेम बढ़ता है।

तुलसी में चुंदड़ी डालें

वैवाहिक जीवन में हमेशा खटास बनी रहती है। इस दिन तुलसी जी को लाल रंग की चुंदड़ी चढ़ानी चाहिए और यदि पूजा पूरी हो जाए तो इस दिन एक चुंदड़ी किसी विवाहित महिला को दान करनी चाहिए या देवी मंदिर में चढ़ानी चाहिए। इस उपाय से पति-पत्नी के बीच प्यार बढ़ता है।

तुलसी मंगलाष्टक पाठ

अगर किसी कन्या के विवाह में कोई समस्या या बाधा आ रही हो तो इस दिन तुलसी विवाह कराना चाहिए। साथ ही तुलसी विवाह के दिन तुलसी मंगलाष्टक का पाठ करें। इससे शीघ्र विवाह योग बनता है।