Wednesday , February 21 2024

‘जल दीवाली’ अभियान के तहत तीन दिन महिलाओं को दी जाएगी वाटर ट्रीटमेंट प्लांट की जानकारी

कानपुर,06 नवम्बर(हि.स.)। दीनदयाल अंत्योदय योजना अंतर्गत राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत केन्द्र सरकार अमृत 2.0 अभियान में तीन दिन ‘जल दीवाली’ मनाने का निर्णय लिया है। ‘जल दीवाली’ अभियान के तहत महिलाओं को शुद्ध जल तैयार करने की प्रक्रिया से रूबरू कराया जाएगा। यह कार्यक्रम केन्द्र सरकार के निर्देश पर 7 से 9 नवम्बर को कानपुर जल संस्थान बेनाझाबर से शुरू होगा।

उत्तर प्रदेश जल निगम के मुख्य अभियंता इंजीनियर आर.बी.राम ने बताया कि भारत सरकार से प्राप्त आदेश के क्रम में अमृत 2.0 के अन्तर्गत अभिनव प्रयास पानी के लिए महिलाएं, महिलाओं के लिए पानी का आयोजन डे-एनयूएलएम के समन्वय से 7 से 9 नवम्बर तक किया जा रहा है।

इस कार्यक्रम के अन्तर्गत कानपुर नगर में जिला नगरीय विकास अभिकरण डूडा, कानपुर नगर के माध्यम से संचालित दीनदयाल अंत्योदय योजना के राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन डे-एनयूएलएम के अन्तर्गत गठित स्वयं सहायता समूहों में से 40-40 महिला सदस्यों का भ्रमण जनपद की चयनित 4 वाटर ट्रीटमेंट प्लांट पर किया जाएगा। जिसमें महिलाओं को शुद्ध जल की विभिन्न प्रक्रियाओं से संवेदित करते हुए उन्हें घरों में स्वच्छ और सुरक्षित पेयजल की आपूर्ति से जुड़ी विभिन्न प्रक्रियाओं के बारे में बहुमूल्य जानकारी भी प्रदान की जाएगी।

महिलाओं को जलकल एवं जल संस्थान के अधिशासी अभियंता और नोडल अधिकारी के सहयोग से भ्रमण दिवस पर महिलाओं को शहर की पाइप जल प्रणाली, पानी के स्रोत, शोधन प्रक्रिया तथा नलों तक पानी पहुंचाने की प्रक्रियाओं आदि के संबंध में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के इंचार्ज एवं नोडल अधिकारी द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा।

‘जल दिवाली’ कार्यक्रम के अंतर्गत प्रशिक्षण अमृत 2.0 एवं डे-एनयूएलएम के संयुक्त तत्वावधान में 7 से 9 नवम्बर के मध्य कानपुर नगर के 4 वाटर प्लांट बेनाझाबर पर 7 नवम्बर, गंगा बैराज डॉ.राम मनोहर लोहिया, जल सम्पूर्ति परियोजना पर 8 नवम्बर को गंगा बैराज जेएनएनयूआरएम, फेज-1 पर 8 नवम्बर एवं गुजैनी स्थित परियोजना पर 9 नवम्बर को आयोजित किया जा रहा है।