Wednesday , May 29 2024

गर्मी के मौसम में रखें गर्भवती महिलाओं और बच्चों का ख्याल, अपनाएं एक्सपर्ट की ये सलाह

देश के कई हिस्सों में गर्मी बढ़ती जा रही है. कई इलाकों में तापमान 40 डिग्री तक जा रहा है. उत्तर प्रदेश का अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चल रहा है. तेज हवाओं और लू ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है. ऐसे मौसम में गर्भवती महिलाओं और बच्चों को थोड़ा अधिक सावधान रहना चाहिए, दरअसल थोड़ी सी लापरवाही उनके लिए महंगी साबित हो सकती है। उनके स्वास्थ्य को काफी नुकसान हो सकता है. इस भीषण गर्मी में गर्भवती महिलाओं और बच्चों को विशेष ख्याल रखना चाहिए।

इस संबंध में जब अपोलो अस्पताल की वरिष्ठ आहार विशेषज्ञ डॉ. जब हमने प्रीति पांडे से बात की तो उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाओं को सबसे पहले दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक तेज धूप में निकलने से बचना चाहिए क्योंकि इस समय धूप बहुत तेज होती है. जब आप घर से बाहर निकलें तो खुद को पूरी तरह से ढंकना बहुत जरूरी है।

अपने शरीर में पानी की मात्रा बनाए रखें यानी घर से बाहर निकलते समय पानी पिएं। अपने साथ पानी की बोतल रखें। कोशिश करें कि ज्यादा देर तक धूप में न रहें। समय-समय पर पानी पीते रहें। अगर आप घर से बोतल लाना भूल गए हैं तो नारियल पानी या कोई जूस पी सकते हैं। साथ ही डॉक्टर द्वारा बताई गई सभी दवाएं समय पर लेते रहें।

न करें इस वस्तु का सेवन : डॉ. प्रीति पांडे ने किसी भी प्रकार का सीलबंद खाना खाने या सीलबंद जूस पीने से बचने को कहा। एनर्जी ड्रिंक जैसी कोई चीज नहीं लेनी चाहिए। ये सब सेहत को नुकसान पहुंचाता है. प्राकृतिक पानी जैसे जूस, नारियल पानी, लस्सी, दूध, दही या सादा पानी का सेवन करें। यह सलाह सभी के लिए है.

गर्मी में ऐसे रखें बच्चों का ख्याल
डॉ. प्रीति पांडे ने कहा कि बच्चों को उचित मात्रा में पानी पीना बहुत जरूरी है. अगर आपका बच्चा छोटा है या बड़ा है या बाहर खेलने जाता है तो उसे अपने साथ पानी की बोतल जरूर रखनी चाहिए। समय-समय पर पानी पीने की आदत डालें और बच्चों के पोषण का भी ध्यान रखें। यह सुनिश्चित करने का प्रयास करें कि उनके ग्रीष्मकालीन भोजन में अच्छा पोषण हो। उन्होंने यह भी कहा कि बेहतर होगा कि हम बच्चों को अत्यधिक धूप से बचाएं।