Wednesday , February 21 2024

एंजेलो मैथ्यूज को क्रीज पर देर से पहुंचने के लिए दंडित किया गया, BAN बनाम SL मैच के दौरान बल्लेबाज का ‘टाइम आउट’ हुआ

नई दिल्ली : यह कैसे संभव है कि इतने बड़े टूर्नामेंट में एक भी विवाद न हो? हाल ही में आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 2023 के 38वें मैच में श्रीलंका और बांग्लादेश के बीच मैच में बड़ा हंगामा हुआ. दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेले जा रहे मैच में श्रीलंकाई बल्लेबाज एंजेलो मैथ्यूज बिना कोई गेंद खेले आउट हो गए. जिस तरह से उन्हें नौकरी से निकाला गया, उसकी किसी को उम्मीद नहीं थी.

आपको बता दें कि सदारा के आउट होने के बाद एंजेलो मैथ्यूज मैदान पर पहुंच रहे थे लेकिन गलत हेलमेट के कारण उन्हें मैदान पर पहुंचने में एक मिनट की देरी हो गई और इस तरह उन्हें नियमों के मुताबिक ‘टाइम आउट’ दे दिया गया. क्रिकेट में ऐसा पहली बार देखने को मिला है, एंजेलो मैथ्यूज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहले ऐसे क्रिकेटर बन गए हैं, जिन्हें टाइम आउट दिया गया है. आइए जानते हैं एमसीसी के इस नियम के बारे में.

क्रिकेट में पहली बार हुआ ‘टाइम आउट’, एंजेलो मैथ्यूज बने शिकार

दरअसल, एंजेलो मैथ्यूज पहले क्रिकेटर बन गए हैं, जिन्हें टाइम आउट दिया गया है। आपको बता दें कि श्रीलंकाई टीम की पारी के 25वें ओवर के दौरान सदारा के आउट होने के बाद एंजेलो मैथ्यूज क्रीज पर आ रहे थे, लेकिन इस दौरान सही हेलमेट नहीं लाने के कारण उन्हें पवेलियन जाना पड़ा.

क्रीज पर आते ही उन्होंने अपने साथी खिलाड़ी को दूसरा हेलमेट लाने का इशारा किया, लेकिन इसी बीच मैदान पर मौजूद कप्तान शाकिब अल हसन ने अंपायर से समय की गुहार लगाई और वीडियो देखने से पहले उन्हें लगा कि यह एक मजाक है। लेकिन यह सच है। दोनों मैदानी अंपायरों ने एक-दूसरे से बात की और मैथ्यूज को टाइम आउट करार दिया गया। इस तरह मैथ्यूज को बिना एक भी गेंद खेले निराश होकर पवेलियन लौटना पड़ा। इस फैसले से निराश होकर एंजेलो मैदान पर अंपायर से बहस करते नजर आए लेकिन अंत में उनके पास कोई विकल्प नहीं था और वह निराश होकर पवेलियन लौट गए।

टाइम आउट के लिए एमसीसी नियमों के अनुसार-

उन्होंने कहा, ”विकेट गिरने या चोट लगने के कारण बल्लेबाज के रिटायर होने के 3 मिनट के अंदर बल्लेबाज को क्रीज पर आकर गेंद को खेलना जरूरी है, लेकिन अगर ऐसा संभव नहीं है तो विरोधी टीम को इसके लिए समय लेना चाहिए.” बल्लेबाज।” अपील कर सकता है अंपायर नये बल्लेबाज को आउट घोषित कर सकता है.