Thursday , February 22 2024

आरटीआई में चौंकाने वाला खुलासा: SBI ने बेचे 14,940 करोड़ रुपये के चुनावी बॉन्ड, बीजेपी को मिले सबसे ज्यादा 8516 करोड़ रुपये

चुनावी बांड को लेकर भारतीय स्टेट बैंक की ओर से आरटीआई के तहत कुछ जानकारी मुहैया कराई गई है। जिसमें कुछ चौंकाने वाली जानकारियां सामने आई हैं. जिसके मुताबिक, स्टेट बैंक ने पिछले छह साल में 14906 करोड़ रुपये से ज्यादा के चुनावी बॉन्ड बेचे हैं. हालांकि, इस रकम में से किस राजनीतिक दल को कितनी रकम मिली, इसकी जानकारी देने से साफ इनकार कर दिया गया है. लेकिन चुनाव आयोग द्वारा 2022 में की गई घोषणा के अनुसार कुल बांड राशि का 57 प्रतिशत अकेले भाजपा को प्राप्त हुआ है और शेष 43 प्रतिशत राशि अन्य सभी राजनीतिक दलों को प्राप्त हुई है। यानी बॉन्ड की कुल बिक्री में से सबसे ज्यादा 8516 करोड़ रुपये बीजेपी को मिले, जबकि बाकी सभी राजनीतिक दलों को 6424 करोड़ रुपये मिले.

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा सूरत के नागरिक संजय इझावा को दी गई जानकारी में ये चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है. जिसके मुताबिक पिछले 6 साल में 26,024 चुनावी बॉन्ड बिके. जिनमें से 22,215 बांड पूंजीपतियों द्वारा और 3809 बांड मध्यम वर्ग द्वारा खरीदे गए हैं। ऐसा लगता है कि देश के उद्योगपतियों ने राजनीतिक दलों को चुनावी बांड देने के लिए अपना खजाना खोल दिया है। जैसे, छह वर्षों में जारी किए गए 26,024 चुनावी बांडों में से 99.77 प्रतिशत अमीरों द्वारा खरीदे गए थे। 

6 साल के दौरान एक करोड़ के 14094 चुनावी बॉन्ड और दस लाख के 8121 बॉन्ड देश के अमीर लोगों ने खरीदे हैं. इसकी तुलना में एक हजार के 156 चुनावी बांड और 10 हजार के 263 बांड और एक लाख के 3390 बांड मध्यम वर्ग के लोगों ने खरीदे हैं. इस रकम का हिस्सा किस राजनीतिक दल को मिला, इसके बारे में एसबीआई ने कोई जानकारी नहीं दी है. एसबीआई ने सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 की धारा 8(1)(ई) के तहत राजनीतिक दलों के नामों का खुलासा करने से स्पष्ट रूप से इनकार कर दिया है। 

यहां बता दें कि चुनावी बांड को लेकर मामला फिलहाल सुप्रीम कोर्ट में लंबित है. सरकार ने कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर कहा है कि लोगों को यह जानने का अधिकार नहीं है कि किस राजनीतिक दल को कितनी राशि के कितने चुनावी बांड मिले हैं. 

बॉक्स किस वर्ष कितने राशि के कितने बांड बेचे गए?

वर्ष बांड की संख्या राशि रु. करोड़ों में
2018 2134 1056.73
2019 10179 5071.99
2020 460 363.96
2021 2647 1502.29
2022 5314 3704,85
2023 5290 3240.44

कुल संख्या : रु. 26024

कुल बांड राशि: रु. 14940 करोड़ ज्यादा