Wednesday , May 29 2024

अमृत ​​भारत ट्रेन: इस रूट पर चलेंगी दो नई अमृत भारत ट्रेनें, चेक करें रूट और अन्य विवरण

अमृत ​​भारत ट्रेनें: मुजफ्फरपुर समेत उत्तर बिहार के यात्रियों को दो अमृत भारत ट्रेनों की सौगात मिलेगी. दोनों का रूट अभी तय नहीं हुआ है. फिलहाल भारी भीड़ से निपटने के लिए इन ट्रेनों को कोलकाता-हावड़ा रूट पर चलाने की योजना है. रेलवे अधिकारियों ने इस ट्रेन को चलाने की तैयारी शुरू कर दी है.

मुजफ्फरपुर और कोलकाता के बीच चलने वाली साप्ताहिक तिरहुत एक्सप्रेस और मुजफ्फरपुर-हावड़ा जनसाधारण एक्सप्रेस का नाम बदलकर अमृत भारत ट्रेन कर दिया जाएगा। इसकी तैयारी दो साल से चल रही थी, लेकिन चेन्नई कोच फैक्ट्री ने उत्पादन बढ़ा दिया है, इसलिए यात्रियों की सुविधा के लिए यह ट्रेन चलाई जाएगी।

इसकी तैयारी को लेकर सोनपुर डीआरएम ने मुजफ्फरपुर-बरौनी के कोचिंग डिपो ऑफिसर और सभी कैरेज एंड वैगन के सुपरवाइजरों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिये हैं. उन्होंने सबसे पहले वाशिंग पिट पर ओएचई को दुरुस्त करने को कहा है।

आपको बता दें कि पूर्व मध्य रेलवे के सभी मंडलों से 11 अमृत भारत ट्रेन और वंदे भारत ट्रेन चलाने की योजना है. रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी इसकी तैयारी में जुटे हुए हैं.

अमृत ​​भारत ट्रेन के अनुरूप वाशिंग पिट की तैयारी

मुजफ्फरपुर से अमृत भारत ट्रेन चलाने के लिए सबसे पहले वाशिंग पिट तैयार करने का आदेश दिया गया है. इस ट्रेन के दोनों तरफ इंजन लगे हैं, इसलिए इसके लिए मुजफ्फरपुर जंक्शन के वाशिंग पिट नंबर एक को चुना गया है. वहां 25 हजार वोल्ट ओवरहेड (ओएचई) विद्युत तार दौड़ाया जाएगा। इसके लगने के बाद वाहन वाशिंग पिट तक पहुंच जाएगा। वाशिंग पिट पर ओएचई नहीं है, क्योंकि वाशिंग के दौरान करंट लगने का खतरा हो सकता है, इसलिए रैक को डीजल इंजन से वहां ले जाया जाता है।

हालांकि अमृत भारत ट्रेन की धुलाई के लिए पिट पर ओएचई लगाई जाएगी। इसके लिए ओएचई इंजीनियर केडी प्रसाद को जल्द तैनात करने को कहा गया है. मंगलवार को ओएचई अधिकारी ने बिजली विभाग के साथ मिलकर जंक्शन के वाशिंग पिट नंबर एक पर ओएचई लगाने का नक्शा तैयार किया है.

धुलाई के दौरान सात घंटे तक वाशिंग पिट की ओएचई बिजली बंद रहेगी।

अमृत ​​भारत ट्रेन की धुलाई में करीब सात घंटे लगेंगे। कोच की धुलाई के लिए छह घंटे और इंजन की धुलाई के लिए एक घंटे का समय मिलेगा। धुलाई के समय, इस अवधि के लिए ओएचई बिजली बंद कर दी जाएगी। धुलाई के समय लाइटिंग आदि का ट्रायल होगा और उस समय दोबारा बिजली की आपूर्ति की जायेगी.