Wednesday , May 29 2024

Peacock Feather Vastu Benefits: नवग्रह को शांत करने वाले मोर पंख का प्रयोग वास्तु के लिए अद्भुत है, जानें वास्तु टिप्स

मोर पंख वास्तु लाभ: वास्तु के अनुसार, घर में मोर पंख रखने से किसी भी तरह की बुरी ऊर्जा घर में प्रवेश नहीं कर पाती है। यह घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर कर सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देता है।

अगर घर में वास्तु दोष हो तो हर काम में बाधा आती है। जिसके कारण परिवार के सदस्यों की तरक्की भी रुक जाती है। घर में वास्तु दोष दूर करने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय करते हैं। मोर पंख से जुड़े कुछ उपाय करने से घर का वास्तु दोष दूर हो सकता है। यदि नवग्रह अशुभ हो तो भी मोर पंख का यह उपाय करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है। आइए जानते हैं वास्तु के इन उपायों के बारे में

मोर पंख से सम्बंधित वास्तु उपाय

पुराणों के अनुसार मोर पंख किसी भी स्थान को बुरी शक्तियों और प्रतिकूल चीजों के प्रभाव से बचाता है। मोर पंख नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने में बहुत कारगर माना जाता है।

 

मोर धन की देवी लक्ष्मी और विद्या की देवी सरस्वती से जुड़े हैं। यदि परिवार के सदस्यों की प्रगति रुकी हुई है तो अपने घर में मोर पंख रखें। इसके शुभ प्रभाव से घर में धन का आगमन होने लगता है।

अगर दांपत्य जीवन में तनाव रहता है तो अपने शयनकक्ष में मोर पंख रखें। ऐसा माना जाता है कि इससे पति-पत्नी के रिश्ते बेहतर होते हैं और उनके बीच प्यार बढ़ता है। मोर पंख रखने से घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है।

यदि आप शत्रुओं से परेशान हैं तो मंगलवार या शनिवार की रात को हनुमानजी के मस्तक के सिन्दूर से मोरपंख पर उस शत्रु का नाम लिखकर घर के पूजा स्थान में रख दें। सुबह उठकर इन मोर पंखों को बहते पानी में प्रवाहित कर दें। इससे शत्रु कमजोर हो जाता है.

कुंडली में चंद्रमा की अशुभ स्थिति से छुटकारा पाने के लिए मोर पंख से जुड़े उपाय बहुत कारगर होते हैं। इसके लिए सोमवार के दिन आठ मोर पंख लेकर आएं, पंख के नीचे सफेद धागा बांध लें। इसके बाद एक थाली में आठ पान के पत्ते रखें. गंगा जल छिड़कते हुए 21 बार ‘ओम सोमाय नमः जाग्रे स्थापय स्वाहा’ मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से मानसिक शांति मिलती है।

वास्तु के अनुसार घर में मोर पंख रखने से घर के सभी दोष दूर हो जाते हैं। अगर कुंडली में नवग्रह दोष है तो घर की पूर्वी और उत्तर-पश्चिमी दीवारों पर मोर पंख लगाएं। इससे प्रत्येक ग्रह के दोष शांत होते हैं।

यदि आप ग्रहों के अशुभ प्रभाव से परेशान हैं तो ग्रह मंत्र का 21 बार जाप करें और मोर के पंख पर जल छिड़कें। अब इसे सर्वोत्तम स्थान पर स्थापित करें जहां से यह दिखाई दे। घर के मुख्य दरवाजे पर 3 मोर पंख रखें और ‘ओम द्वारपालाय नम: जाग्रे स्थापय स्वाहा’ मंत्र लिखें और नीचे भगवान गणेश की मूर्ति रखें। जिससे घर के सदस्यों पर भगवान की कृपा बनी रहती है।