Saturday , August 13 2022
Home / खेल / IPL 2021: टीम इंडिया को जिताया वर्ल्‍ड कप, रोहित से लेकर कोहली तक सभी ने टीम से निकाला, आज मैदान पर उतरेगा बाएं हाथ का धोनी?

IPL 2021: टीम इंडिया को जिताया वर्ल्‍ड कप, रोहित से लेकर कोहली तक सभी ने टीम से निकाला, आज मैदान पर उतरेगा बाएं हाथ का धोनी?

बड़े लहराते बाल, लंबा कद, वही चाल-ढाल. झारखंड के इस खिलाड़ी को बाएं हाथ का धोनी कहा जाता है. ये वही खिलाड़ी है जिसने टीम इंडिया के मौजूदा कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) को तब चैंपियन बनवाया था जब उन्‍होंने अंडर19 टीम की कमान संभाल रखी थी. साल 2008 में विराट की कप्‍तानी वाली अंडर19 टीम की खिताबी जीत तक के सफर में इस बाएं हाथ के खिलाड़ी का योगदान कम नहीं था. ये खिलाड़ी हैं सौरभ तिवारी (Saurabh Tiwary), जिन्‍होंने अपने शुरुआती करियर में ही लंबे-लंबे छक्‍कों से धोनी टाइप पहचान बना ली थी. हालांकि तिवारी इसे जारी नहीं रख सके. आलम ये रहा कि आईपीएल में भी कभी रोहित शर्मा ने अपनी टीम से निकाला तो कभी विराट कोहली ने. हालांकि एक बार फिर ये बल्‍लेबाज मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के खेमे में है और आज राजस्‍थान रॉयल्‍स (Rajasthan Royals) के खिलाफ मैच में उतरते हैं या नहीं, ये देखने वाली बात होगी.

30 दिसंबर 1989 को जमशेदपुर में जन्‍मे सौरभ तिवारी अक्‍टूबर 2010 में भारतीय टीम के लिए डेब्‍यू किया था. तब सीनियर खिलाडि़यों को आराम दिए जाने के चलते उन्‍होंने विशाखापट्टनम में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वनडे मैच खेला था. भारत के लिए तिवारी ने तीन वनडे में 49 रन बनाए. जहां तक आईपीएल डेब्‍यू की बात है तो सौरभ ने साल 2008 से लेकर 2010 का मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्‍व किया. मगर इसके बाद 2011 से 2013 तक रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का हिस्‍सा रहे. जब विराट कोहली की कप्‍तानी वाली आरसीबी टीम से निकाले गए तो फिर 2014 से 2015 तक दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स टीम का हिस्‍सा रहे. 2016 में राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स ने अपने साथ जोड़ा तो 2017 से 2021 तक अब मुंबई इंडियंस के साथ ही हैं.

आईपीएल में ऐसा है सौरभ तिवारी का प्रदर्शन

सौरभ तिवारी ने इंडियन प्रीमियर लीग में 88 मैच खेले हैं. इनमें उन्‍होंने 27.58 की औसत और 120.22 की स्‍ट्राइक रेट के साथ 1379 रन बनाए हैं. इनमें उन्‍होंने 7 अर्धशतक भी जड़े हैं जबकि 101 चौके और 48 छक्‍के उनके बल्‍ले से निकले. तिवारी ने 24 कैच भी पकड़ीं. उनका उच्‍चतम स्‍कोर 61 रन रहा. जहां तक उनके सबसे बढि़या सीजन की बात है तो ये साल था 2010. तब उन्‍होंने 16 मैच खेले थे और 419 रन बनाए थे. इस दौरान उनका औसत 29.92 और स्‍ट्राइक रेट 135.59 का था. इस सीजन में तिवारी ने तीन अर्धशतक लगाए थे. अंडर19 वर्ल्‍ड कप फाइनल में सौरभ तिवारी ने 20 रन बनाए थे. लो स्‍कोरिंग फाइनल में भारतीय पारी का ये दूसरा सर्वोच्‍च स्‍कोर था. इस मैच में भारत ने डकवर्थ लुइस प्रणाली से 12 रन से जीत हासिल की थी. तिवारी ने इस टूर्नामेंट में 28.75 की औसत और 65.34 के स्‍ट्राइक रेट से 6 मैच में 115 रन बनाए थे.

Check Also

Asia Cup: भारत के खिलाफ मैच से पहले पाकिस्तान को हिलाकर रख दें, स्टार खिलाड़ी का खेलना संदिग्ध

एशिया कप में भारत और पाकिस्तान की टीमें 28 अगस्त को आमने-सामने होंगी। पाकिस्तान के स्टार ...