Thursday , February 29 2024

INDW vs AUSW: दीप्ति के ‘पंजे’ में फंसी कंगारू टीम, बड़ा रिकॉर्ड

भारत और ऑस्ट्रेलिया की महिला क्रिकेट टीमों के बीच दूसरा वनडे मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. इस बीच भारतीय टीम की ऑफ स्पिनर दीप्ति शर्मा ने शानदार गेंदबाजी कर ऑस्ट्रेलिया को घुटनों पर ला दिया. दीप्ति ने भारत के लिए 10 ओवर में 3.80 की इकोनॉमी रेट से 5 विकेट लिए।

दीप्ति शर्मा का पंजा

दीप्ति ने 24वें ओवर की दूसरी गेंद पर एलिसा पेरी को कैच कराकर पारी का पहला विकेट लिया। वह 47 गेंदों में 50 रन बनाकर बैटिंग कर रही थीं. इसके बाद उन्होंने पारी के 28वें ओवर की आखिरी गेंद पर बेथ मूनी को एलबीडब्ल्यू आउट किया. इसके बाद उन्होंने ताहलिया मैक्ग्रा को 24 रन पर बोल्ड कर दिया. मैक्ग्रा ने अपनी पारी के दौरान दो चौके लगाए। इसके बाद उन्होंने पारी के 46वें ओवर की पहली गेंद पर जॉर्जिया वेयरहम को स्मृति मंधाना के हाथों कैच आउट कराया। दीप्ति ने एनाबेले सदरलैंड का पांचवां विकेट लिया। सदरलैंड 29 गेंदों पर 23 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे.

 

 

 

रेनुका सिंह और अमनजोत कौर को विकेट नहीं मिला

भारतीय टीम के अन्य गेंदबाजों की बात करें तो पूजा वस्त्राकर, श्रेयंका पाटिल, स्नेह राणा ने एक-एक विकेट लिया। जबकि रेनुका सिंह और अमनजोत कौर को एक भी विकेट नहीं मिला. ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे ज्यादा रन फोबे लीचफील्ड ने बनाए. उन्होंने 98 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली, इसके बाद एलिसा पेरी ने 47 गेंदों पर 50 रन बनाए।

श्रेयंका को मिला पहला वनडे विकेट

अब देखना यह है कि क्या भारत तीन मैचों की सीरीज के इस मैच में जीत के साथ वापसी कर पाता है और स्कोर 1-1 से बराबर कर पाता है या नहीं। इस मैच में टीम इंडिया के लिए दीप्ति के अलावा स्नेह राणा और पूजा वस्त्राकर को भी 1-1 सफलता मिली। जबकि डेब्यूटेंट श्रेयांका पाटिल ने एक विकेट लिया. श्रेयंका ने अपने डेब्यू मैच में शानदार गेंदबाजी की और 10 ओवर में 43 रन देकर 1 विकेट लिया। उन्होंने सेट बल्लेबाज फोबे लीचफील्ड का विकेट लिया।

 

 

 

भारत के पास वापसी का मौका है

भारतीय टीम ने पहले मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम के लाइनअप के खिलाफ 280 से ज्यादा का स्कोर बनाया. हालांकि कंगारू टीम ने वह मैच 6 विकेट से जीत लिया था. लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने यहां पहले खेलते हुए भारत को सिर्फ 259 रनों का लक्ष्य दिया है. वनडे क्रिकेट में यह कोई खास लक्ष्य नहीं है. टीम पहले मैच में स्मृति मंधाना के बिना उतरी थी लेकिन यहां मंधाना की वापसी हो गई है। ऐसे में टीम का बल्लेबाजी क्रम मजबूत है.