Friday , July 19 2024

Breast Cancer Symptoms: स्तन कैंसर के शुरुआती लक्षणों को समझें!

टेलीविजन की जानी-मानी अभिनेत्री हिना खान ने हाल ही में सोशल मीडिया पर स्टेज-3 ब्रेस्ट कैंसर होने का चौंकाने वाला खुलासा किया है। हिना खान के इस खुलासे के बाद ब्रेस्ट कैंसर एक बार फिर चर्चा का विषय बन गया है। ब्रेस्ट कैंसर महिलाओं में होने वाला एक आम कैंसर है, लेकिन अगर इसका समय रहते पता चल जाए तो इसका सफलतापूर्वक इलाज किया जा सकता है। इसलिए महिलाओं को अपने ब्रेस्ट में होने वाले किसी भी बदलाव के प्रति सतर्क रहना चाहिए और इसके शुरुआती लक्षणों को पहचानना सीखना चाहिए।

ब्रेस्ट कैंसर में स्तन की कोशिकाओं में असामान्य वृद्धि होती है। इसे गांठ के रूप में महसूस किया जा सकता है, लेकिन कई बार गांठ के अलावा भी कई अन्य लक्षण हो सकते हैं, जिन पर ध्यान देने की ज़रूरत होती है। आइए जानते हैं ब्रेस्ट कैंसर के कुछ शुरुआती लक्षणों के बारे में जिन्हें नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए।

स्तन के आकार या माप में परिवर्तन:

यदि आपके एक स्तन का आकार या आकृति अचानक दूसरे स्तन से असमान दिखाई देने लगे, तो यह स्तन कैंसर का संकेत हो सकता है।

स्तन की त्वचा में परिवर्तन –

स्तन की त्वचा पर लालिमा, गड्ढे या संतरे के छिलके जैसी सतह भी स्तन कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

निप्पल में परिवर्तन:

निप्पल का धंस जाना, उसका आकार बदल जाना, निप्पल से खून आना या किसी भी प्रकार का तरल पदार्थ निकलना स्तन कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

 

अतिरिक्त निप्पल या निप्पल के आसपास गांठ:

कभी-कभी स्तन के आसपास या निप्पल पर छोटी गांठें महसूस हो सकती हैं, जिन पर ध्यान देने की आवश्यकता होती है।

बगल में गांठ:

स्तन के आसपास या बगल में गांठ महसूस हो सकती है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि ऊपर बताए गए सभी लक्षण सिर्फ़ ब्रेस्ट कैंसर के ही नहीं बल्कि अन्य समस्याओं के भी हो सकते हैं। लेकिन अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण नज़र आए तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। समय रहते निदान और उपचार से ब्रेस्ट कैंसर का सफलतापूर्वक इलाज किया जा सकता है।

कुछ महत्वपूर्ण बिंदु

* 20 से 30 वर्ष की आयु वाली महिलाओं को भी हर महीने अपने स्तनों की जांच करनी चाहिए।

* 40 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को हर 1-2 साल में मैमोग्राफी करानी चाहिए।

* स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं, संतुलित आहार लें और नियमित व्यायाम करें।

* अगर परिवार में किसी को स्तन कैंसर हुआ हो तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

ब्रेस्ट कैंसर के बारे में जागरूक होना और इसके शुरुआती लक्षणों को पहचानना बहुत ज़रूरी है। अगर आप सतर्क रहें और समय पर डॉक्टरी सलाह लें तो ब्रेस्ट कैंसर को हराना संभव है।