Thursday , July 25 2024

लापरवाही बरतने पर दो राजस्व निरीक्षकों को शो-काज नोटिस

मीरजापुर, 06 जुलाई (हि.स.)। शासन के मंशापुरूप जन समस्याओं को तहसील स्तर पर निस्तारण के दृष्टिगत जनपद के सभी तहसीलों में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन शनिवार को किया गया। मण्डलायुक्त डा. मुथुकुमार स्वामी बी., जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन, पुलिस अधीक्षक अभिनन्दन व मुख्य विकास अधिकारी विशाल कुमार ने सदर तहसील पर आए फरियादियो की समस्याओं को सुना। प्रार्थना पत्रों की सुनवाई में लापरवाही बरतने पर दो राजस्व निरीक्षकों को शो-काज नोटिस जारी किए जाने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया।

मण्डलायुक्त ने कहा कि शिकायतकर्ताओं की समस्या को गम्भीरता से लेते हुए स्थलीय निरीक्षण कर समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि शिकायतकर्ता की संतुष्टि होने के पश्चात ही समस्याओं का निस्तारण माना जाएगा। सदर तहसील में कुल 73 मामले आए जिसमें 17 का मौके पर ही निस्तारण कर, शेष प्रार्थना पत्रों को निर्धारित समयान्तर्गत निस्तारण के निर्देश दिया गया।

जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने राजस्व व पुलिस की 15 टीमो का गठन करते हुए निर्देशित किया कि सम्पूर्ण समाधान दिवस समाप्त होने के पश्चात मौके पर जाकर दोनों पक्षों बुलाकर गुणवत्तापूर्ण समस्या का समाधान कराया जाए। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी सदर को निर्देशित करते हुये कहा कि निस्तारण प्रकरणो में स्वयं भी शिकायतकर्ता उनके दूरभाष पर वार्ता कर फीडबैक भी लिया जाए। सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त प्रार्थना पत्रो की सुनवाई में लापरवाही बरतने पर डीएम ने कड़ी नारागजी व्यक्त की। कोन के राजस्व निरीक्षक जोखूराम व पैड़ापुर के राजस्व निरीक्षक जयबहादुर को शो-काज नोटिस जारी करने को उप जिलाधिकारी सदर को निर्देशित किया। कहा कि इन दोनों राजस्प निरीक्षकों ने जिस भी मामले का निस्तारण किया है, उसका स्वंय सत्यापन करें। जिलाधिकारी ने चेतावनी देते हुए कहा कि भविष्य ऐसी पुनरावृत्ति होने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।