Wednesday , May 29 2024

रूस में बांध टूटने से नदी में भयानक बाढ़, 6300 से ज्यादा घर क्षतिग्रस्त, 4000 लोगों को बचाया गया

मॉस्को: रूस में यूराल नदी में आई बाढ़ के बाद आसपास के गांवों में पानी भर जाने से बड़ी संख्या में लोग अपने घरों में फंस गए। अत्यधिक पानी के दबाव के कारण एक बांध भी ढह गया है. 

प्रांतीय सरकार ने शनिवार को ओसार्क क्षेत्र से दो हजार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला है. यह क्षेत्र कजाकिस्तान की सीमा से सटा हुआ है। 

ओर्स्क के मेयर वासिली कोज़ुपित्सा के अनुसार, 2,400 से अधिक आवासीय इमारतों में पानी भर गया है और कई क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बाधित हो गई है। बचाव एवं राहत कार्य अभी भी जारी है। शनिवार को बांध में पानी 9.3 मीटर (30.51 फीट) की ऊंचाई तक पहुंच गया. यूराल पर्वतीय क्षेत्र से 4000 लोगों को बचाया गया है. यह स्पष्ट नहीं है कि इस संख्या में ओर्स्क से बचाए गए 2,000 लोग शामिल हैं या नहीं।

गौरतलब है कि यूराल नदी की लंबाई 2428 किमी है. रूस की जांच समिति ने बांध टूटने की जांच शुरू कर दी है. रूसी सरकार ने ऑरेनबर्ग क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित इलाकों में संघीय आपातकाल घोषित कर दिया है। स्थानीय सरकार के अनुसार, यूराल नदी के जलस्तर में वृद्धि के कारण 885 बच्चों सहित 4,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। 2000 से अधिक घरों में पानी घुसने से बाढ़ प्रभावित घरों की संख्या बढ़कर 6300 हो गई है. रूस के आपातकालीन मामलों के मंत्री ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और बचाव अभियान की समीक्षा की.