Thursday , July 25 2024

मोहम्मद सिराज ने घर जाकर किया ये काम, लोग कर रहे तारीफ

टी20 वर्ल्ड कप 2024 की विजेता भारतीय टीम के खिलाड़ी अब अपने-अपने घर पहुंच रहे हैं. विजेता टीम के खिलाड़ी गुरुवार सुबह बारबाडोस से सीधे नई दिल्ली पहुंचे। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खिलाड़ियों से मुलाकात की. इसके बाद मुंबई में बीसीसीआई की ओर से चैंपियन खिलाड़ियों का भव्य स्वागत किया गया. जब खिलाड़ी चमचमाती टी20 विश्व कप 2024 ट्रॉफी के साथ खुली छत वाली बस में चढ़े तो प्रशंसकों ने उनका स्वागत किया।

अब जब खिलाड़ी अपने-अपने घर पहुंच रहे हैं तो उनका स्वागत अलग-अलग अंदाज में किया जा रहा है. इसी बीच मोहम्मद सिराज की एक तस्वीर भी सामने आई है जो खूब वायरल हो रही है.

हैदराबाद में एक रोड शो आयोजित किया गया

विश्व चैंपियन टीम के सदस्य मोहम्मद सिराज शुक्रवार रात हैदराबाद पहुंचे। यहां जुटे हजारों क्रिकेट प्रशंसकों ने उनका जोरदार स्वागत किया. हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के नेतृत्व में मोहम्मद सिराज के स्वागत के लिए मेहदीपट्टनम देवी अस्पताल से ईदगाह मैदान तक एक भव्य रोड शो निकाला गया। इस दौरान खूब पटाखे फोड़े गए और लोग देशभक्ति के गानों पर नाचते नजर आए.

 

 

 

 

घर पहुंचकर सिराज ने क्या किया?

रोड शो के बाद घर पहुंचे मोहम्मद सिराज ने सबसे पहले अपनी मां से मुलाकात की. मोहम्मद सिराज ने अपना वर्ल्ड कप मेडल अपनी मां को दिया. इस मौके पर सिराज की मां भावुक नजर आईं. सिराज ने अपनी मां द्वारा पहने गए मेडल की फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट की, जिसे खूब लाइक्स मिल रहे हैं. ये फोटो कुछ ही घंटों में वायरल हो गई.

 

 

 

ग्रुप स्टेज में सिराज का दम दिखा

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने वर्ल्ड कप के ग्रुप स्टेज में 3 मैच खेले. हालांकि सुपर-8 मैच वेस्टइंडीज में खेला गया था जिसमें स्पिन गेंदबाजों को मदद मिल रही थी. इसलिए मोहम्मद सिराज की जगह कुलदीप यादव को प्लेइंग-11 में शामिल किया गया. मोहम्मद सिराज ने ग्रुप स्टेज के 3 मैचों में दो बार फील्डिंग मेडल का पुरस्कार जीता। हालांकि, मोहम्मद सिराज 3 मैचों में सिर्फ 1 विकेट ही ले सके.

 

 

 

 

उन्होंने प्रधानमंत्री से मुलाकात का अनुभव साझा किया

मोहम्मद सिराज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की और कैप्शन में लिखा, ”प्रधानमंत्री से मिलना बड़े सम्मान की बात है. एक गौरवपूर्ण क्षण. आपके मार्गदर्शन और हमेशा मुझे प्रोत्साहित करने के लिए धन्यवाद सर। हम भारत का झंडा ऊंचा रखने के लिए कड़ी मेहनत करते रहेंगे।’ जय हिन्द”