Wednesday , May 29 2024

न्यूयॉर्क में फिलिस्तीनी समर्थकों ने नारे लगाते हुए हिलेरी क्लिंटन को घेर लिया

इजराइल और फिलिस्तीन के बीच चल रहे संघर्ष में अब तक दोनों पक्षों के 33,000 से अधिक लोग मारे गए हैं। इस युद्ध के ख़िलाफ़ फ़िलिस्तीनी समर्थकों का प्रदर्शन भी दुनिया भर में चल रहा है। इस बीच न्यूयॉर्क से अहम खबर आई है, जहां फिलिस्तीनी समर्थकों ने हिलेरी क्लिंटन को घेर लिया और नारे लगाए. नारेबाज़ों ने हिलेरी को सबसे बड़ा दरिंदा बताया और क्लिंटन दंपत्ति पर नरसंहार को बढ़ावा देने का आरोप लगाया.

हिलेरी और बिल क्लिंटन को घेरते हुए नारे

यह घटना ऐसे समय में सामने आई है जब राष्ट्रपति जो बाइडन ने युद्ध के बीच इजरायल का समर्थन करने की बात कही है। जिसके चलते बाइडन प्रशासन को कड़ी आलोचना का भी सामना करना पड़ रहा है। बात यह है कि हिलेरी और उनके पति बिल क्लिंटन अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के समर्थन में एक कार्यक्रम से निकल रहे थे तभी फिलिस्तीनी समर्थकों ने उन्हें घेर लिया और नारे लगाने लगे.

प्रदर्शनकारियों ने ‘सबसे बड़ा शिकारी’ करार दिया

नारेबाज़ी के दौरान, प्रदर्शनकारियों ने क्लिंटन को सबसे बड़ा शिकारी बताया और कहा कि इस जोड़ी ने नरसंहार को बढ़ावा देने की साजिश रची। प्रदर्शनकारियों ने हिलेरी और बिल क्लिंटन से पूछा कि आपके हाथों कितने लोगों की मौत हुई है? हम आशा करते हैं कि हर रात मरने वालों की चीखें आपको परेशान करेंगी।

हिलेरी क्लिंटन ने क्या कहा?

जब इज़राइल पर हमास के हमले में 1,200 लोग मारे गए, तो हिलेरी क्लिंटन ने शुरू में इज़राइल के आत्मरक्षा के अधिकार पर जोर दिया। उन्होंने दावा किया कि युद्धविराम की वकालत करने वाले हमास को नहीं पहचानते. हालाँकि, बाद में हिलेरी ने एक साक्षात्कार में अपनी टिप्पणियों के लिए माफ़ी माँगी।