Sunday , June 23 2024

तले हुए खाद्य पदार्थ स्वास्थ्य के लिए खतरा क्यों हैं?

विश्व उच्च रक्तचाप दिवस 2024:  विश्व उच्च रक्तचाप दिवस जो 17 मई को पूरे देश में मनाया जाता है। इस मौके पर रिम्स (RIMS) के कार्डियोलॉजी के एचओडी डॉ. हेमंत नारायण रे ने बताया कि हाई ब्लड प्रेशर यानी उच्च रक्तचाप क्या है और इससे कैसे बचा जा सकता है.

आ

यह बीमारी भारत में बहुत आम है, लगभग हर तीसरा व्यक्ति इससे पीड़ित है। ऐसे में स्वस्थ वजन बनाए रखना और सक्रिय रहना बहुत जरूरी है, लेकिन खान-पान की आदतें भी इस बीमारी को नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाती हैं। विशेष रूप से भारत में, जहां स्वादिष्ट लेकिन अक्सर तले हुए खाद्य पदार्थ खाए जाते हैं, फिटनेस, तले हुए खाद्य पदार्थ और रक्तचाप के बीच संबंध को समझना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है।

तले हुए खाद्य पदार्थ स्वास्थ्य के लिए खतरा क्यों हैं?

अगर आप नियमित रूप से तले हुए खाद्य पदार्थ खाते हैं, तो इससे आपका रक्तचाप काफी बढ़ सकता है। आइये जानते हैं क्यों:

1. संतृप्त और ट्रांस वसा की उच्च मात्रा:    तले हुए खाद्य पदार्थ अक्सर ऐसे तेल में पकाए जाते हैं जिनमें संतृप्त और ट्रांस वसा की उच्च मात्रा होती है। ये वसा रक्त में एलडीएल (“खराब”) कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं, जिससे प्लाक जमा हो जाता है।

2. बहुत अधिक सोडियम:   कई तले हुए खाद्य पदार्थों में बहुत अधिक नमक होता है, जिससे शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ जाती है। उच्च सोडियम और कम पोटेशियम वाला आहार रक्त वाहिकाओं को कठोर बना देता है, जिससे उच्च रक्तचाप का खतरा बढ़ जाता है।

3. कम पोषण:   तला हुआ भोजन खाने से आवश्यक पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। तले हुए खाद्य पदार्थों में अक्सर फाइबर, आवश्यक विटामिन और खनिजों की कमी होती है, जो शरीर के समग्र स्वास्थ्य और हृदय के समुचित कार्य के लिए आवश्यक हैं।

फिटनेस और खान-पान के जरिए ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखें।

स्वस्थ जीवनशैली अपनाकर आप उच्च रक्तचाप को कम कर सकते हैं। स्वस्थ जीवन शैली में दो चीजें महत्वपूर्ण हैं – फिटनेस और संतुलित आहार, जिसमें बहुत अधिक तला हुआ भोजन नहीं होना चाहिए।

स्वास्थ्य:

दैनिक व्यायाम: सप्ताह में 90 से 150 मिनट तक एरोबिक व्यायाम करने से रक्तचाप कम होता है। एरोबिक व्यायाम वे हैं जिनमें आप सांस लेते रहते हैं, जैसे तेज़ चलना, दौड़ना या तैरना।

व्यायाम से वजन कम होता है, रक्त प्रवाह बेहतर होता है और हृदय मजबूत होता है तथा रक्त को बेहतर ढंग से पंप कर पाता है।

रक्तचाप को नियंत्रित करें

तली हुई चीजें कम खाना: तली हुई चीजें जितना हो सके कम खाएं. अधिक फल, सब्जियाँ, साबुत अनाज और कम वसा वाले डेयरी उत्पाद खाएँ। इससे संतृप्त और ट्रांस वसा की मात्रा कम हो जाती है, जो रक्तचाप बढ़ाते हैं।

स्वस्थ प्रोटीन चुनें:  तले हुए खाद्य पदार्थों में पाए जाने वाले प्रसंस्कृत मांस के बजाय, मछली, दाल और चिकन ब्रेस्ट जैसी स्वस्थ प्रोटीन वाली चीजें खाना फायदेमंद हो सकता है।

नमक कम खाएं:  नमक का सेवन कम करें। एक दिन में 1500 मिलीग्राम से कम सोडियम का सेवन करने की कोशिश करें। आप पोटैशियम पोटैशियम युक्त आहार ले सकते हैं।

रक्तचाप को नियंत्रित करने के उपाय:

1. खाने के पैकेट पर लिखी जानकारी पढ़ें:  डिब्बाबंद या पैकेज्ड खाना खरीदते समय उस पर लिखी नमक और वसा की मात्रा जरूर जांच लें।

2. घर पर खाना पकाएं:  इससे आप अपने खाने में क्या डाल रहे हैं और कितनी मात्रा में खा रहे हैं, दोनों पर नियंत्रण रख सकते हैं.

3. स्वस्थ विकल्प चुनें:  तले हुए खाद्य पदार्थों के लिए कई स्वादिष्ट और स्वस्थ विकल्प हैं। इनका सेवन करने का प्रयास करें.