Wednesday , May 29 2024

खेल भावना या स्वार्थ..? सीएसके के खिलाफ पैट कमिंस की इस हरकत पर दिग्गज क्रिकेटर ने सवाल उठाए

मोहम्मद कैफ ऑन पैट कमिंस : आईपीएल 2024 में कल सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मैच में कुछ ऐसा हुआ जिसकी खूब चर्चा हो रही है। चेन्नई की पारी के 19वें ओवर में रवींद्र जड़ेजा थ्रो और विकेट के बीच आ गए. गेंद उनके शरीर पर लगी और इससे वह रन आउट होने से बच गये. रवींद्र जडेजा को ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड नियम के तहत आउट किया गया था, लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान पैट कमिंस ने अपील नहीं करने का फैसला किया। इसके लिए उनकी सराहना हो रही है. लेकिन एक एंगल ये भी है कि उन्होंने अपने फायदे के लिए जडेजा को बख्श दिया.

धोनी को बाहर रखने के लिए लिया गया ये फैसला?

रवींद्र जडेजा डेथ ओवरों में रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे थे. जब उनसे अपील की गई तब जडेजा 20 गेंदों में 25 रन पर थे। अगर कोई बल्लेबाज 14वें ओवर में आता है और 19वें ओवर तक क्रीज पर रहता है तो उससे तेज पारी की उम्मीद की जाती है। लेकिन जडेजा एक भी छक्का या चौका नहीं लगा सके. ऐसे में जब पैट कमिंस ने अपील वापस ले ली तो जडेजा क्रीज पर टिके रहे. अगर जडेजा के खिलाफ अपील की गई होती और उन्हें आउट दिया गया होता तो धोनी उनके बाद मैदान पर आते। पिछले मैच में धोनी ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ आखिरी ओवर में 20 रन बनाए थे. शायद यही वजह रही कि कमिंस ने जडेजा के खिलाफ अपील वापस लेने का फैसला किया.

 

 

कैफ ने उठाया सवाल

पूर्व भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने भी पैट कमिंस की मंशा पर सवाल उठाए हैं. कैफ ने कमिंस से यह भी पूछा कि क्या उन्होंने विश्व कप के दौरान विराट कोहली के साथ भी ऐसा ही किया होता। कैफ ने साफ किया कि कमिंस ने जानबूझकर जडेजा को आउट नहीं किया. कैफ ने एक्स पर लिखा, ‘जडेजा के खिलाफ फील्डिंग में बाधा डालने की अपील वापस लेने पर पैट कमिंस से दो सवाल। क्या संघर्ष कर रहे जडेजा को क्रीज पर रखते हुए धोनी को बाहर रखना एक रणनीतिक निर्णय था? अगर विराट कोहली वर्ल्ड टी20 में होते तो क्या वह भी ऐसा ही करते?’