Thursday , February 29 2024

अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि पाकिस्तान ने 6,500 और अफगान शरणार्थियों को निष्कासित किया

इस्लामाबाद : पाकिस्तान ने रविवार को 6500 और अफगानी शरणार्थियों को देश से निकाल दिया है। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं. इसके बाद पाकिस्तान छोड़ने वाले अफगानी शरणार्थियों की संख्या एक लाख 70 हजार हो गई है. यह जानकारी सोमवार को सीमा अधिकारियों ने दी.

पाकिस्तान ने अपने यहां रह रहे शरणार्थियों को स्वेच्छा से देश लौटने के लिए 1 नवंबर तक का समय दिया था. यह अवधि समाप्त होते ही उन्हें जबरन उनके देश वापस भेज दिया जा रहा है. स्वैच्छिक वापसी के अलावा छोटे-मोटे अपराधों में शामिल अफगान नागरिकों को भी निष्कासित किया जा रहा है. इस महीने अब तक खैबर पख्तूनख्वा, पंजाब और इस्लामाबाद से करीब 500 कैदियों को रिहा किया जा चुका है. उन्हें तोरखम और चमन बॉर्डर से वापस भेज दिया गया है. हालाँकि, अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठनों ने शरणार्थियों को बाहर निकालने के पाकिस्तान के कदम की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि गिरफ्तारी और निर्वासन से बचने के लिए पाकिस्तान से भाग रहे अफगान अपनी मातृभूमि की ओर सीमा पार करने के बाद उचित आश्रय, भोजन, पानी और शौचालय की कमी के बीच खुले में सोने को मजबूर हैं।